65 साल बूढी नानी को दिया अपने मोटे

Antarvasna Hindi Sex Stories हेलो फ्रेंड मैं राज आपके लिए एक मस्त सेक्सी कहानी लेके आया हु, ये कहानी मेरी नानी के बारे में है, मेरी नानी किसी १८ साल की लड़की से काम नहीं है, मेरी नानी मस्त माल है. मेरी नानी का नाम रंभा है वो 61 साल की है गोरा रंग चूचियाँ बड़े बड़े टाइट टाइट, बहुत ही हॉट है. मैं अब सीधे अपनी कहानी पे आता हु.

एक दिन मा ने कहा की तुम नानी के घर चले जाओ कुछ समान लेके मुझे तो बहुत गुसा आया, की वैसी बुढ़िया के पास भेज रहे है फिर भी मैं चला गया तो मैं जब पहुचा तो नानी टीवी देख रही थी नानी घर पे अकेली रहती है क्यों की मेरी माँ ही है और कोई दूसर भाई बहन नहीं है ओर नाना 10 साल पहले निकल लिए थे, तो इसलिए वो घर मे भी साडी या सूट के बदले नाईटी पहनती ह वो भी स्लिकी कपड़े वाली तो जब मैं पहुचा तो उनका आधा चूची भर को आ रहा था तो मैं देख के हिल सा गया उस समय मैने पहली बार नानी को गंदी निगाह से देखा था तो नानी ने मेरे सामने चूची अंदर किया ओर बोली आएगा तू फिर मेरे हाथ मे समान था तो नानी को दिया तो मेरा हाथ उनके चुचो से टकराए मुझे मजा आया फिर करीब 1 घंटे बाद नानी नहाने जा रही थी तो मैने बेड पे उनकी ब्रा पेंटी देखी गजब का सेक्सी पेंटी का सेट था, दोनों ही सेम कलर का था, मैं उनकी पेंटी देखकर मस्त हो गया और मैंने अपने लंड पर हाथ रखकर सहलाने लगा.

फिर वो नहाने चली गई तो मैं अंदर के ख्याल सोचा के भर पलंग मे मूठ मारने लगा फिर पीछे से नानी मुझे देख रही थी मेरी तो फट गई याअोंर. मैं रुक गया नानी ने बोला बेटा ये क्या कर रहे थे तुम मैं बोला नानी बस अच्छा लगता है हिलाने से. तो नानी ज़ोर से हसी ओर बोली अछा ल्गता है पर ये जब अकेले मे किया कर ऐसे खुले मे नहीं मेने बोला ओके नानी न सॉरी वो बोली कोई बात नहीं.फिर वो डिन्नर के बाद हम लोग एक साथ सोने चले गये

करीब 12:30 बजे मेरा हाथ नानी के उपर चला गया ओर लंड नहीं तम्बू की तरह खड़ा हो गया था, मेरे सोचा दबा दू फिर मैंने डरते हुए नानी का धीरे से एक चूची दबा दिया नानी सो रही थी फिर मेने हिम्मत को बड़वा देते हुए दूसरा चूची भी दबाया नानी सोई थी फिर मैंने उनके पेट को सहलाने लगा.

फिर उन्होने करवट बदली तो मेरी थोड़ी गांड हवा दे गई ओर मैं चुप-चाप सो गया अगले दिन मैं जब उठा तो नानी बगल मे बैठी थी ओर बोली उठ गया मेरा बच्चा, मैने उनकी तरफ देखा तो बड़ी ही सेक्सी लग रही थी फिर कुछ देर बाद वो बोली ढंग से सोया कर मेने कहा क्या हुआ नानी तो बोली हाथ पैर बहुत चलते ह तेरे मैने बोला मैं कुछ समझा नहीं नानी तो बोली, अछा चल कोई नि समझ जाएगा मुझे एसा लग रहा था की नानी मेरी सोच को समझ चुकी है अब बस मुझे इंतज़ार था की कब मैं उनका शिकार करू

फिर दोपहर के करीब 1 बजे की बात है नानी राोइसी मे खाना बना रही थी उस समय वो सिर्फ़ रेड कलर की नाईटी मे थी ओर इतनी सेक्सी लग रही थी जेसे मानो कोई 30-35 साल की औरत खड़ी हो मैं उन्हे चुप के देख रहा था वो समझ गई थी पर कुछ बोली नहीं फिर हमने लंच किया ओर नानी ओर मैं टीवी देखने लगे तो उसमे एक सॉंग आ रहा था जिसमे लड़किया बीकनी मे थी तो नानी बोली आज क्ल की लड़किया भी छोटे कपड़े बहुत पहनती है तो मेने क्यू नानी आपके ज़माने के नहीं पहती थी तो नानी बोली बेटा पहनते तो थे पर अंदर पहनते थे मेने कहा अंदर मतलब तो कहती इसके उपर भी कपड़े पहते थे फिर मेरी नजर नानी के चूचियों पे पड़ा क्या लग रहा था, मैं तो अपने होठ को दांत से दबाने लगा.

उसके बाद नानी मुझे देख लिया तो नानी हसने लगी ओर बोली आज कल तू बहुत जवान हो गया था, तेरी मा से बोलके तेरी शादी करवानी पड़ेगी तो मेने बोला की नानी जवान केसे हुआ मैं मतलब तो बोली ये जो तेरा खड़ा हो रहा है इसको शांत सिर्फ़ एक लड़की कर सकती है मेने बोला नानी आप भी तो बहुत सेक्सी हो तो नानी दंग रह गई बोली क्या बोल रहा है बेटा मेने बोला हा नानी आप मुझे बहुत सेक्सी लगती हो आपको बहुत पसन्द करता हू ओर ये कहके नानी को हग किया तो नानी को कुछ समझ नहीं आया ओर वो चुप हो गई,

तो मैं उनके चूची से बिल्कुल चिपका पड़ा था मुझे नानी के चूची महसूस हो रहे थे ओर नानी को मेरा लौड़ा पर नानी ने मुझे दूर किया ओर बोली बचे ये गलत है मैं तेरी नानी हू तेरी मा की भी मा मेरे साथ ये सब करेगा तो मैंने कहा नानी प्यार मे उमर नहीं देखी जाती मैं आपको पागल की तरह प्यार करता हू , उसके बाद मैंने रम्भा कहना सुरु कर दिया. रम्भा तुम मुझे आज मत रोको आज मैं खुश कर दूंगा, आज एक जवान लंड और और बूढी चूत का मिलना हो जाए, मैंने नानी के हाथ पकड़ के सहलाने लगा, नानी भी गरम होने लगी.

फिर मैं पीछे हो गया तो बोली रुक क्यों गये करो ना मैं खुशी से पगल हो गया था मेने कास के नानी को पकड़ा ओर बोला रंभा तू मेरी जान है ओर इतना बोलके गोदी मे उठा लिया ओर बिस्तर पर ले गया फिर मैं पूरा नंगा हो गया तो नानी थोड़ी सी शर्मा गयी, ओर बेड पे चढ़ गया मेरा लौड़ा देख कर वो खुश हो गई ओर बोली बड़े सालो बाद लॅंड देखा है फिर मेने नानी को नाईटी उतारने को कहा तो नानी को नंगा देख कर मैं पागल सा हो गया बुध शरीर था पर गोरा होने की वजह से बहुत सेक्सी लग रही थी

वो फिर मेने नानी की चूत को देखा तो उनकी चूत बिल्कुल सुखी और सटी पड़ी थी मैं दंग रह गया पर मेने उनके दोनो चूची पकड़े ओर ज़ोर ज़ोर से पीने लगा दबाने लगा बड़ा मजा आ रहा था नानी भी गरम हो गई थी पूरी तरह से नानी अपनी चूत रगड़ने लगी थी उंगली डालने लगी थी ताकि चूत खुल जाए फिर मेने उनकी गांद को देखा को बहुत मोटी थी मेने उसमे तेल लगाया जिससे वो ओर चिकनी हो गई ओर गांद के छेद पे भी लगाया ओर अपने लोड पर भी मैं गांडने घुसने लगा तो नानी मना करने लगी मेने कहा क्या हुआ वो बोली ऐसे मत डालो दर्द हो रहा है बहुत पर मैं कहा सुनने वाला था नानी बस चिलाती रही आआआः उफ़फ्फ़ मर गई मत करो ना आराम से डालो फिर मैने लॅंड निकाला ओर कुछ देर रुक गया नानी ने मेरा लौड़ा पकड़ा ओर उसको सहलाने लगी अब मुझे नानी की चूत का इंतज़ार था मेने नानी की चूत पे तेल डाला ओर टोपा डालना शुरू किया नानी को बहुत मज़ा अगया नानी बहुत डालो ना जल्दी मुज़मे भी जोश सा अगया ओर मेने ज़ोर से 3-4 झटके मारे ओर मेरा पूरा लॅंड नानी की चूत मे अब मैं हल्के से झटके मरने लगा नानी पागल सी होने लगी थी, नानी के मुह से आअह आआह उफ्फ्फ आआआः उम्म्म ओह आआआः की आवाज आ रही ही, आप ये कहानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पे पढ़ रहे है.

उसके बाद तो मेरी सेक्सी नानी गजब गजब की आवाजनिकालने लगी फिर कुछ देर बाद मैं झड़ने वाला था तो मेने नानी की चूत से लॅंड निकाला ओर नानी के महू के आगे लॅंड किया नानी समझ गई ओर मुह मे ले लिया ओर चूसने लगी जेसी उन्होने 2-3 बार चूसा वही मेरा माल उनके महू मे झड़ गया ओर मैं ठंडा पड़ गया ओर नंगा ही नानी के उपर पड़ गया ओर सो गया ओर फिर रात को भी हमने 2 बार चुदाई करी ओर अब नानी मेरे सामने पूरी तरह खुल चुकी थी मैं उनके सामने लॅंड निकल लेता हू उनकी गांद पे लॅंड फेर देता हू चूची दबा देता हू वो कुछ नहीं कहती ओर अब वो 65 साल की है पर आज भी वो मुझे चूत देने के लिए मना नहीं करती ओर कभी कभी तो वो मूठ भी मार देती है. दोस्तों सच बताता हु, बुढ़ियों को चोदने का मजा कुछ और ही होता है, मस्त लगा मुझे अपनी नानी को चोदकर.